सौफ खाने से क्या फायदे हो सकते है ? | Benefits of Fennel seeds

क्या आप खाना खाने के बाद सौफ (Fennel seeds) खाते है ?

अगर जवाब है है तो आगे जरूर पढ़े ।

आज हम जानेंगे अगर हम रोजाना सौफ (Fennel seeds) का इस्तेमाल करते है तो इसका शरीर पर क्या असर होगा।

जब भी हम होटल (Hotel) या बहार कही खाना खाने जाते है, तो खाने के तुरंत बाद सौफ (Fennel seeds) लाकर दिया जाता है या बिल के साथ लाकर देते है ।

क्यों की ये मु की बदबू दूर कर देत है और खाना पचाने में भी मदद करता है ।

सौफ में आयरन (Iron) , पोटैशियम (Potassium), ताम्बा (copper) , माँगनेसे (magnese) , मैग्नीशियम (Magnesium), जिंक (Zinc) और सेलेनियम (Selenium) जैसे मिनरल्स (Minerals) पाए जाते है ।

अब जानते है सौफ (Fennel seeds) खाने के क्या क्या फायदे हमें हो सकते है ।

सौफ(fennel seeds) माउथ फ्रेशनर (Mouth freshner) की तरह काम करता है ।

अगर साँस लेते वक्त मु से बदबू आ रही हो तो सौफ खाने से वो दूर हो सकती है ।
सौफ एक माउथ फ्रेशनर की तरह काम करता है ।

इसमें अलग अलग तरह के तेल पाए जाते है जो मुँह के बदबू को दू करने में मदद करते है ।
जितना ज्यादा हम सौफ को चबाते है हमारे मुँह में लार का उत्पादन बढ़ जाता है, जो मुह में छिपे हुए खाते पदार्थो को निकालकर हजम करने की क्रिया को शुरू कर देता है ।

एन्टीबॅक्टेरिअ (Anti bacteria) गुणों के आलावा ये सांसो के बदबू और मसूड़ों को संक्रमित करने वाले जीवो को नष्ट करता है ।
तो अगर आप सौफ नहीं खाते है तो खाने के बाद जरूर खाये ।

मासिक ड्रम (periods) के दर्द को काम करता है।

सौफ पेल्विक(Pelvic) मीन्स यूटेरिने एरिया में रक्त को संतुलित रूप से प्रवाह कराकर मासिक ड्रम के दौरान दर्द से रहत दिलवाता है ।

जर्नल ऑफ़ रिसर्च आयुर्वेद के अनुसार दो महिलाये मासिक ड्रम के दौरान सौफ का सेवन करती है उनकी डस्की महिलाओंके मुकाबले का दर्द काम सहना पड़ता है ।

मासिक ड्रम (time of period) सौफ का सेवन कैसे करना है ये अब देखते है ।

घर में पानी गरम करने का बर्तन ले और उसमे एक चम्मच भरकर सौफ (Fennel seeds) डाले ।
उसको तबतक उबले जब तक पानी का रंग न बदल जाये ।

उसके बाद जो भी गाढ़ा बन जाता है उसको छान कर गुनगुना होने पर उसका सेवन करे ।
सौफ (Fennel seeds) के काढ़े से मासिक ड्रम के दौरान दर्द से मुक्ति मिल सकती है ।

सौफ बदहज़मी या कब्ज (constipation) से राहत दिलाता है ।

अगर आप कब्ज (constipation) से परेशान है तो सौफ को चबाने से इसमें जरुरी तत्व पाचन क्रिया का काम करना शुरू कर देते है ।

इसमें जो फाइबर (fibres) होता है वो मल को नरम करता है जो कब्ज (constipation) की समस्या को दूर करता है ।
रोज सौफ (Fennel seeds) का सेवन करने से आपका पेट बिकुल स्वस्त रहेगा और आप बिलकुल तजा महसूस करेंगे ।

सौफ एनीमिया (Anemia) से रक्षा करता है ।

ये पहले भी बताया है की सौफ में आयरन (Iron) और ताम्बा (Copper) भरपूर मात्रा में होता है ।

जिससे शरीर में लाल कण यानि के रेडबलूड सेल्स (Red Blood Cells) का उत्पादन अच्छी तरह से हो पता है ।

सौफ का सेवन करने से आयरन(Iron) की मात्रा बढ़ने लगती है जिससे होमोग्लोबिन (hemoglobin) की भी मात्रा बढ़ जाती है ।

रोज सौफ खाने से गर्भवती महिल;ा (pregnant) को लाभदेय होता है ।
क्यों की ये एनीमिया (Anemia) के बुरे प्रभाव से बचता है ।

सौफ (Fennel seeds) वाटर रेटेन्शन(Water retention) को कम करता है।


सौफ में मूत्र वर्धक या नई की दियरेटिक गन होने के कारन या एडिमा (Edema) होने से शरीर की रक्षा करता है ।
इसके नियमित सेवन से वजन घटता है ।

सौफ की चाय (fennel seeds
Tea) पिने से भी बोहोत सरे लाभ होते है

दुनिया में बोहोत सरे लोग है जो सौफ की चाय पीना पसंद करते है ।
सौफ की चाय प्रचन क्रिया को संभालती है और पेट में बन रहे गैस को दूर करता है ।

डायरिया (diarhhea) से मुक्ति पा सकते है ।

अगर गर्मियों के दिनों में आप डायरिया (diarhhea ) के शिकार बन गए तो सौफ की चाय (Fennel seeds Tea) आपको इससे राहत दिला सकती है ।

सौफ की चाय (Fennel seeds Tea) पेट में से कीड़ो को ख़तम करती है ।
सौफ की चाय (Fennel seeds Tea) आखो के सूजन को काम करने में भी मदद करती है ।

तो सौफ का सेवन नियमित से करे और ऊपर बताई कोई भी परेशानी है तो तुरंत उनसे बचे ।

इस आर्टिकल (article) को घर वालो के साथ या दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे ताकि उनको भी सौफ के महत्त्व के बारे में पता चले ।

धन्यवाद् !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *